नीमकाथाना की हर खबर सिर्फ नीमकाथाना न्यू.इन पर...

News Update

नीमकाथाना दूसरे दिन भी बंद रहा, 24 के खिलाफ मामला दर्ज

नीमकाथाना- एससी/एसटी के बंद के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए बीएसएफ व आरएसी की एक-एक कंपनी को तैनात किया गया है। भगतसिंह विचार मंच, व्यापारी वर्ग एवं सर्वसमाज ने मंगलवार को नीमकाथाना बंद रखकर प्रदर्शन किया।

नीमकाथाना. टैक्सी स्टैंड पर सभा करते सर्वसमाज के लोग व व्यापारी।
बंद पूरी तरह सफल रहा। वहीं, आपातकालीन सेवाएं भी बंद में शामिल रखी गई। इससे पेट्रोल पंप और मेडिकल दुकानें दिनभर बंद रही। मेडिकल बंद रहने से मरीजों को परेशानी उठानी पड़ी। फल व सब्जी बाजार भी बंद रहे।

कपिल मंडी, सुभाष मंडी, रामलीला मैदान, टैक्सी स्टैंड, कपिल अस्पताल के सामने, खेतड़ी मोड़ व छावनी की दुकानें भी पूरे दिन नहीं खुली। ऑटो भी नहीं चले। इधर, बंद समर्थक सुबह कपिल मंडी में एकत्रित हुए। यहां सभा की। इस दौरान लोगों ने सोमवार को शहर में हुए उपद्रव की निंदा की। कहा, ऐसे कृत्य बर्दाश्त नहीं किए जाना चाहिए। लोगों ने मामले के आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है।

खेतड़ी मोड़ पर भी प्रदर्शन किया गया। यहां भगतसिंह जिंदा बाद के नारे लगाए। प्रदर्शन में विभिन्न संगठनों के सैकड़ों लोग शामिल हुए। खेतड़ी मोड़ पर दिनभर से जाब्ता तैनात रहा।

पुलिस ने अब तक 24 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से तीन अाराेपियों विजेन्द्र उर्फ सिफू, संजय उर्फ धर्मा व हेमंत उर्फ लाला को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया। पुलिस के मुताबिक तीनों उपद्रवी कोतवाली थाने पर हुए हमले में शामिल थे।

इनके अलावा पुलिस ने शनिश्चर माेहल्लेके यादराम, पंकज, दयाल की नांगल के रविकांत, खेतड़ी मोड़ के विक्की पुत्र देवराज, सोहनपुरा निवासी विकास, रैगरों के मोहल्ला निवासी जीतू, चौथमल, हंसराज, महेन्द्र, राहुल, रविंद्र को गिरफ्तार किया है।

इनके साथ ही गोपाल, बजरंग, भरत वार्ड 24 खेतड़ी मोड़, श्रवण निवासी मांकड़ी, मनीष भूदोली रोड, बाबूलाल निवासी पालवाली, श्रवण निवासी बंधा की ढाणी, सुरेश वार्ड पांच का रहने वाला है। रायपुर निवासी संजय कुमार व नयाबास के बोदूराम को गिरफ्तार किया गया है।

उपद्रवियों को पकड़ने पुलिस की कई जगह दबिश | एससी/एसटी के प्रदर्शन के दौरान हुई आगजनी व तोड़फोड़ मामले के आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस की कई टीमें रातभर से जगह-जगह दबिश दे रही है। सीसीटीवी फुटेज के डाटा भी एकत्रित कर रही है।

निर्दोषों को पकड़ रही है पुलिस

सुरेश मीणा - मीन सेना के राष्ट्रीय प्रमुख सुरेश मीणा किशोरपुरा ने सोमवार को भारत बंद के आह्वान पर शहर में दलित संगठनों द्वारा निकाली रैली के दौरान हुए घटनाक्रम की निंदा की है।

रैली को कुछ असामाजिक तत्वों ने जान बूझकर खराब करने का प्रयास किया है। अपराधी की कोई जाति नहीं होती है। ऐसे में उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, लेकिन पुलिस निर्दोष कर्मचारी व बच्चों को गिरफ्तार कर रही है जो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

विधायक प्रेमसिंह बाजौर के निवास, पूर्व विधायक रमेश खंडेलवाल के कार्यालय एवं अन्य प्रतिष्ठान चलाने वाले व्यापारियों और आमजन के साथ उपद्रवियों ने जो करतूत की, वह गलत ह

No comments