सूचना- आप और हम मिलकर बनाएंगे नीमकाथाना को डिजिटल...हमारी टीम नीमकाथाना की सभी सरकारी और गैर सरकारी संस्थाओ की बेसिक जानकारी पोर्टल पर उपलब्ध करवाने हेतु डाटा कलेक्ट कर रही है। जानकारी देने में हमारा सहयोग करें।

Headlines

खंडेला का मामला- बहन से साले के अवैध संबंधों के चलते की हत्या, आरोपी जीजा फरार

गला रेत साले की हत्या, एसिड से जलाया चेहरा, पुलिस पकड़ने गई तो कांस्टेबल को कुएं में फेंकने की कोशिश

Neem ka thana News- खंडेला के पास सलेदीपुरा के जंगलों में बुधवार देर रात को जीजा ने अवैध संबंधों के कारण साले की गला रेत कर हत्या कर दी। पहचान छुपाने के लिए मृतक के चेहरे व शरीर पर तेजाब भी डाल दिया। युवक की शिनाख्त हंसराज 23 पुत्र कानाराम निवासी कांवट के रूप में हुई। उसके संबंध अपने जीजा सरदारमल की बहन से थे।


बकरी चराने वालों ने जंगल में शव देख कर पूर्व सरपंच भंवरलाल गुर्जर को सूचना दी। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो कपड़ों के आधार पर शव की पहचान की। पुलिस ने परिजनों को घटना की जानकारी दी।

डीएसपी दिनेश कुमार, थानाधिकारी रामकिशाेर मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम बुलाई। पुलिस को घटनास्थल से शराब, तेजाब व पानी की खाली बोतलें भी बरामद हुई। मृतक के भाई महेश ने अपने जीजा सरदारमल सैनी के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया है। हंसराज की शादी नहीं हुई थी।

महेश ने बताया कि बुधवार शाम उसके जीजा उदयपुरवाटी निवासी सरदारमल ने हंसराज को फोन कर बुलाया था। तभी वह बाइक लेकर खंडेला की तरफ रवाना हो गया। काफी देर तक नहीं आया तो उसने मोबाइल पर अपने जीजा के साथ होने की बात कहीं।

फोन पर उसने महेश को आठ बजे छाजना स्टैंड पर अपनी बाइक देने के लिए बुलाया। छाजना स्टैंड पर पहुंचा तो वहां पर कोई नहीं मिला। महेश ने सरदारमल से मोबाइल पर बात की तो उसने गाली गलौच कर फोन काट दिया। सुबह उदयपुरवाटी पहुंचकर जानकारी ली तो पता लगा कि सरदारमल भी रात काे नहीं आया।

उदयपुरवाटी गई खंडेला पुलिस पर हमला, तीन आरोपी हिरासत में 

खंडेला पुलिस आरोपी की तलाश में उदयपुरवाटी पहुंची। हत्या में सरदार मल के चाचा पप्पू के भी शामिल होने की आशंका थी। वहां पर कांस्टेबल मुकेश, राजेश व सरदार सिंह को भेजा गया। तीनों पुलिसकर्मी वहां पहुंचे तो पप्पू को पकड़ लिया। तभी ढाणी के लोगों ने पुलिस पर हमला बोल दिया और पप्पू को छुड़वा कर भगा दिया। कांस्टेबल राजेश का गला दबा कर लोगों ने कुएं में डालने का प्रयास किया।

 घायल जवान राजेश। दूसरे जवान के आंख पर लगी चोट
खंडेला थानाधिकारी रामकिशोर पुलिस जाप्ते को लेकर उदयपुरवाटी थाने पहुंच कर पुलिस को लेकर गए। उन्होंने तीनों पुलिसकर्मियों को छुड़वाया और तीन युवकों को हिरासत में ले लिया।

उदयपुरवाटी एसएचओ रामेश्वरलाल बगड़िया का कहना है उदयपुरवाटी पुलिस को बिना सूचना दिए खंडेला पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार करने पहुंच गई। वहां पर खंडेला पुलिस के साथ लोगों ने हाथापाई की। किसी प्रकार का मामला दर्ज नहीं हुआ है।

खंडेला एसएचओ रामकिशोर चौधरी का कहना है कि हत्या के मामले में घर की लोकेशन देखने के लिए पुलिस टीम को भेजा था। वहां पर पप्पू सैनी मिल गया। कुछ लोगों ने पुलिस के साथ हाथापाई कर उसे छुड़वा लिया। इसके बाद तीन जनों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

उदयपुरवाटी में 45 दिन में तीसरी बार पिटी पुलिस | उदयपुरवाटी में 45 दिनों में तीसरी बार पुलिस पिटी है। 26 फरवरी काे गोरियां में दुष्कर्म के आरोपी को पकड़ने गए एसआई राजेंद्र सिंह के साथ परिजनों ने मारपीट की थी। पुलिस ने 10 जनों के मारपीट व राजकार्य का मुकदमा दर्ज किया था।

13 मार्च को भी बाइक चोरी के आरोपी को पकड़ने गई पुलिस के साथ सराय सूरपूरा में मारपीट हुई थी। कांस्टेबल की ओर मामला दर्ज कराया गया था। तीसरी बार खंडेला पुलिस के साथ मारपीट हुई।

No comments