Reporter- मनीष टांक

नीमकाथाना- निकटवर्ती ग्राम गणेश्वर में शुुक्रवार को कलेक्टर नरेश कुमार ठकराल ने गणेश्वर में रात्री चौपाल रखी जिसमें सबसे ज्यादा पानी व अतिक्रमण कि समस्याऍं सामने आई जिसमें गणेश्वर से लेकर लाखाजी सड़क मार्ग को लेकर ज्ञापन दिया गया।



ग्रामीणो ने समस्या को लेकर सैकड़ो ज्ञापन दिये कलेक्टर नरेश क़ुमार ठकराल ने जल्द निस्तारण करने का आश्वासन दिया।

ठकराल ने बताया कि गणेश्वर में 3 टेंकर पानी के रोजाना सप्लाई शुरु होगी व 3 टयूबेल के प्रस्ताव पारित कर दिए गये हैं।

ग्रामीणो द्वारा गणेश्वर तीर्थ धाम को पर्यट्न स्थल का दर्जा दिलाने को लेकर भी ज्ञापन सौंपा गया, जिस पर ठकराल ने कहा कि गणेश्वर तीर्थ एक पवित्र तीर्थ स्थल है उसका मैने मौका मुआयना किया है यहा पर धार्मिक स्थल कि अपार संभावना है हमने इसके विकास के लिये एक प्रस्ताव बनवाया है वो प्रस्ताव हम राज्य सरकार को भिजवाऍगें और हमारा प्रयास रहेगा कि जल्द से जल्द इस प्रस्ताव को मंजूरी दिलवाकर गणेश्वर को विकास कि धारा में शामिल करेंगे।



ठकराल के अनुसार पूरे सीकर जिले में पानी पानी कि समस्या है पानी को कोई बंधा बनाकर रोका जा सकता है सालावाली में खेल मैदान व आगंवाडी केन्द्र व उपस्वास्थ्य केन्द्र बनवाने को लेकर ज्ञापन दिया

सरपंच प्रतिनिधि छाजुराम यादव द्वारा 11 ज्ञापन सौंपे गए। इससे पहले माइनिंग क्रेशर वेलफेयर सेवा समिति पाटन जॉन में रुके। जहाँ पर विभिन्न लोगों ने नर्सरी में हो रही समस्या से अवगत करवाया। जिसपर ठकराल ने आश्वासन दिया गया।



इस दौरान उपखंड़ अधिकारी जेपी गौड़, तहसीलदार सरदारसिह गिल, विकास अधिकारी सुमेरसिह, सामाजिक कल्याण विभाग ओमप्रकाश रॉड़, पाटन प्रधान संतोष गुर्जर, प्रधान सीको देवी, सरपंच कविता यादव समाजसेवी छाजुराम यादव, माइनिंग विभाग अनिल गुप्ता, रतनलाल यादव, सुरेश यादव, विजय सिंह, महेंद्र गोयल, महेश मेगोतिया आदि मौजूद रहे।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।