नीमकाथाना व अजीतगढ़ में लुटेरों की तलाश में पुलिस टीमों ने मारे छापे,लेकिन आरोपी नहीं आए पकड़ में

0
मऊ में वृद्धा को बंधक बनाकर लाखों की लूट का मामला : वारदात में शामिल छह लुटेरों में से एक स्थानीय होने का संदेह

नीमकाथाना न्यूज- अजीतगढ़/श्रीमाधोपुर थाना इलाके के मऊ गांव में गुरुवार की रात वृद्वा को बंदूक की नोक पर बंधक बनाकर लाखों रुपए के जेवरात व नकदी लूटने वालों का दूसरे दिन भी पुलिस पता नहीं लगा पाई है। शनिवार को पुलिस ने लुटेरों की तलाश में अजीतगढ़ व नीमकाथाना में कई जगह दबिश दी।


पुलिस की विशेष टीमों ने लूट की वारदात करने वालों को पकड़ने के लिए छापे मारे, लेकिन लुटेरे पुलिस के हाथ नहीं लगे। पुलिस ने बताया कि जल्द ही लुटेरे पुलिस की गिरफ्त में होंगे। लुटेरों की पहचान के लिए पुलिस जुटी है।

शनिवार को नीमकाथाना एएसपी धनपतराज सैनी, नीमकाथाना डिप्टी दिनेश यादव, श्रीमाधोपुर एसएचओ राजेन्द्र रावत, अजीतगढ़ एसएचओ हिम्मतसिंह समेत टीम लुटेरों का सुराग लगाने में जुटे रहे। उच्चाधिकारियों के निर्देश पर बनी पुलिस टीमों ने अनेक स्थानों पर दबिश दी एवं संदिग्ध लोगों से पूछताछ भी की।

गौरतलब है कि मऊ गांव में रात एक बजे पांच लुटेरों ने बंदूक की नोंक पर महावीर प्रसाद तिवाड़ी के घर पर लूट की वारदात की थी। उस वक्त घर में वृद्धा जमना देवी अकेली थी। लुटेरे उसे बंधक बना कर ढाई लाख के गहने व 70 हजार रुपए की नकदी लूट कर ले गए थे।

25 किलोमीटर की दूरी 42 मिनट में तय कर अजीतगढ़ आए लुटेरे 

मऊ में वारदात करने के बाद पांचों लुटेरे महज 42 मिनट में अजीतगढ़ आ गए थे। पुलिस के गश्ती दल को देखकर वे भागने लगे तो पुलिस ने इन्हें ललकारा। जब वे नहीं रुके तो पुलिस ने पीछा किया।

पीछा करने के दौरान दो लुटेरों की बाइक गड्ढे में गिर गई तो दोनों लुटेरे बाइक को छोड़कर पहाड़ की ओर भाग गए। पुलिस दूसरी बाइक पर भाग रहे तीन लुटेरों का पीछा करती रही।

हरदास का बास के निकट सड़क पर पड़े पत्थर से टकरा कर पुलिस जीप का टायर फट गया। उसके बाद तीनों लुटेरे भाग निकले। पुलिस के अनुसार लुटेरे दो बाइकों पर सवार थे और अजीतगढ़ में राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक स्कूल के पास से बाजार होकर अंडेसरी मोहल्ले से निकल कर मंडूस्या रोड पर निकले।

छह हो सकते हैं लुटेरे, पुलिस को एक के स्थानीय होने का संदेह

 मऊ में हुई लूट की वारदात में पुलिस लुटेरों की संख्या छह मान रही है। लूट में शामिल एक लुटेरे के लोकल होने का संदेह है। जमना के दो बेटे परिवार सहित जयपुर रहते हैं। देवरानी की लड़की की शादी के लिए गहने बनाए थे। जमना के पति महावीर प्रसाद बच्चों के पास गया था। जमना के अकेले होने और वारदात के दौरान लुटेरों के तेरे पास काफी माल कहने से पुलिस स्थानीय लुटेरे पर रैकी करने की थ्याेरी पर काम कर रही है।

Post a Comment

0Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.
Post a Comment (0)

Neemkathana News

नीमकाथाना न्यूज़.इन

नीमकाथाना का पहला विश्वसनीय डिजिटल न्यूज़ प्लेटफॉर्म..नीमकाथाना, खेतड़ी, पाटन, उदयपुरवाटी, श्रीमाधोपुर की ख़बरों के लिए बनें रहे हमारे साथ...
<

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !