Digital Neemkathana Android App Comming Soon...

News Update

शहीद प्रतिमा के लिए पालिका बोर्ड द्वारा प्रस्ताव खारिज करने के विरोध में क्रमिक अनशन शुरू

नीमकाथाना में नगरपालिका कार्यालय पर सभा हुई, शहीद के पिता सहित चार क्रमिक अनशन पर बैठे, बोर्ड के खिलाफ की नारेबाजी

नीमकाथाना न्यूज़- शहीद सम्मान बचाओ संघर्ष समिति द्वारा पांच सूत्रीय मांगों पर मंगलवार को पालिका कार्यालय पर विरोध सभा आयोजित की गई। शहीद सुनील यादव की प्रतिमा के लिए नेहरू पार्क मेंजगह देने, खेतड़ी मोड पर शहीद भगतसिंह का नामकरण करने, पांच बत्ती सर्किल पर डॉ.अंबेडकर की प्रतिमा लगाने, शहीद रामकुमार गुर्जर के नाम से सड़क का नामकरण करने की मांग पर सभा में नीमकाथाना, श्रीमाधोपुर, कोटपूतली, हरियाणा व झुंझुनूं से यादव समाज केप्रतिनिधि शामिल हुए।

पालिकाध्यक्ष व कांग्रेस पार्षदों को सद‌्बुद्धि के लिए यज्ञ किया गया। हवन में लोगों ने आहुतियां डाली। मांगों को लेकर संघर्ष समिति ने क्रमिक अनशन शुरू किया। शहीद सुनील यादव की प्रतिमा के लिए जमीन देने का प्रस्ताव बोर्ड में बहुमत से खारिज करने पर यादव समाज गहरी नाराजगी है।

सभा में लोगों ने ५ सूत्रीय मांग रखी - 
  1. खेतड़ी मोड़ चौराहे को 1989 के अनुसार गतसिंह चौक यथावत रखकर मूर्ति स्थापित की जावे। 
  2. नेहरू पार्क में शहीद सुनील कुमार यादव की मूर्ति के लिए जगह की स्वीकृति प्रदान की जाए। 
  3. भारत रत्न डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा एवं नामकरण 2008 में सामाजिक संगठनों द्वारा की गई मांग के अनुसार रामलीला मैदान में की जावे। 
  4. शहीद रामकुमार गुर्जर की प्रतिमा वाले रास्ते का नामकरण शहीद रामकुमार मार्ग किया जावे। 
  5. नीमकाथाना नगरपालिका क्षेत्र का विस्तार कर निर्धारित पैरा फेरी क्षेत्र में आने वाली समस्त ग्राम पंचायतों को नगरपालिका में शामिल किया जावे। 
सभा में कांग्रेस नेताओं व पार्षदों के प्रति नाराजगी जताई गई। समिति ने पांच दिनों में मांग पूरी नहीं होने पर आमरण अनशन शुरू करने की चेतावनी दी है।


पांच सूत्रीय मांग पर शहीद सुनील यादव के पिता सांवलराम यादव सहित चार लोग क्रमिक अनशन पर बैठे। सभा के बाद आंदोलन को क्रमिक अनशन के रूप में आगे बढ़ानेपर सहमति हुई। पांच दिनों बाद पालिका कार्यालय पर आमरण अनशन शुरू किया जाएगा। पहले दिन सांवलराम यादव, राजेश बाजिया, संदीप यादव, राकेश नटवाडिया व संजय यादव पाटन क्रमिक अनशन पर रहे।

शहीदों को सम्मान नहीं देनेपर संघर्ष समिति द्वारा पालिका कार्यालय पर नारेबाजी कर पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान व कांग्रेस पार्षदों का विरोध किया। गौरतलब है कि खेतडी मोड सर्किल के नामकरण को लेकर पहले भी संघर्ष की स्थिति बन गई थी।

शहीद सुनील यादव की प्रतिमा के लिए जगह नहीं मिलने से लोगों में नाराजगी बढ़ गई। सभा के दौरान लोगों ने कई बार नारेबाजी कर नाराजगी दिखाई।

Video- 


शहीदों के सम्मान के लिए संघर्ष....
Posted by Sachin Patrkar on Monday, January 1, 2018

सभा को जिप सदस्य प्रवीण जाखड़, कांग्रेस नेता मंजू सैनी, पाटन पंस सदस्य सुरेश यादव, यादव समाज तहसील अध्यक्ष संजय यादव, राजेश बाजिया, सुग्गाराम यादव, बह्मदत्त मोदी, संदीप यादव, दीपक महाजन, सुग्गाराम, नरेन्द्र यादव, शिवराम सिंह, एडवोकेट रामवतार लांबा, जिप सदस्य महेश यादव, रोहिताश गुर्जर, पार्षद जयचंद डांगी, पंस सदस्य जयराम सिंह, का.ओमप्रकाश यादव, रामरतन यादव, पंस सदस्य कैलाश चंद, रतिराम यादव आदि लोगों नेसंबोधित किया।

सीमा विस्तार कर पैराफेरी एरिये को पालिका में शामिल करने की मांग:

संघर्ष समिति में शामिल विभिन्न समाजों के पदाधिकारियों ने सीमा विस्तार कर पैराफेरी एरिये में शामिल गांवों को पालिका में लेने की मांग उठाई।

ग्रामीणों ने कहा पैराफेरी में आने वाले गांवों के लोग परेशान हैं। सामाजिक उपयोग के लिए जमीन की मांग के लिए भी पालिका आना पड़ता है। नपा में उनका कोई प्रतिनिधि नहीं होने से मांग नहीं रख पाते हैं। संघर्ष समिति ने इसके लिए दबाव बनाने का निर्णय किया। वक्ताओं ने भी मांग का समर्थन किया।

No comments