... ...

Headlines

छुट्टी पर गांव आए फौजी को ट्रोले ने कुचला, मौत

 नीमकाथाना: पाटन के ग्राम राजपुरा में गुरुवार शाम सड़क किनारे खड़े सेना के इंजीनियरिंग विभाग में कार्यरत फौजी को रोड़ी से भरे ओवरलोड ट्रोले ने कुचल दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके साथ खड़ा दूसरा युवक घायल हो गया। हादसे के बाद ग्रामीणों ने ओवरलोड ट्रकों पर कार्रवाई करने व ब्रेकर बनाने की मांग को लेकर रास्ता जाम कर दिया। पुलिस ने बेरिकेड्स लगाकर कार्रवाई का आश्वासन दिया। उसके बाद लोगों ने जाम हटाया।

छुट्टी पर गांव आए फौजी को ट्रोले ने कुचला, मौत
Source- Google Images

जानकारी के अनुसार मोहनपुरा-खरकड़ा निवासी सुभाष यादव छुट्टी पर अपने गांव आया हुआ था। गुरुवार शाम करीब साढ़े छह बजे वह राजपुरा स्टैंड पर बाइक साइड में लगाकर अपने मकान का काम करने वाले मिस्त्री से बात कर रहा था, तभी पाटन की ओर से आ रहे रोड़ी से भरे ओवरलोड ट्रोले ने गलत साइड में आकर उसे टक्कर मार दी। इससे फौजी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसके साथ खड़ा मकान निर्माण का मिस्त्री विक्की धानक घायल हो गया।

लोगों ने दोनों को पाटन अस्पताल पहुंचाया, जहां सुभाष को मृत घोषित कर दिया, जबकि विक्की को छुट्टी दे दी। हादसे के बाद ग्रामीणों ने राजपुरा घाटी में ओवरलोड ट्रकों पर कार्रवाई करने और ब्रेकर बनाने की मांग को लेकर जाम लगा दिया। जाम खुलवाने गए थानाधिकारी से लोग ब्रेकर नहीं बनने तक जाम नहीं खोलने पर अड़ गए। बाद में थानाधिकारी ने थाने से बैरिकेड्स मंगवाकर लगाए व ओवरलोड वाहनों पर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने जाम खोला। पुलिस ने ट्रोला जब्त कर लिया।

मकान बनवाने के लिए छुट्टी लेकर गांव आया था फौजी

गुरुवार को सड़क हादसे का शिकार फौजी सुभाष यादव अपने मकान का निर्माण कराने के लिए एक महीने की छुट्टी लेकर घर आया था। मकान निर्माण कार्य चल ही रहा था, तभी हादसा हो गया। मकान की छत डालने के सिलसिले में ही वह मिस्त्री से बात करने के लिए घटना स्थल पर खड़ा था। तीन बेटियों के पिता सुभाष की मौत के बाद परिवार में हाहाकार मच गया। हालांकि परजिनों ने रात को घर पर महिलाओं को मौत की सूचना नहीं देकर अस्पताल में इलाज की बात ही बताई है। मृतक की तीनों बेटियां पाटन के स्कूल में पढ़ती हैं।

Source- Neem Ka Thana Bhaskar

No comments