नीमकाथाना: केंद्र सरकार के द्वारा प्रायोजित क्वालिटी एश्योरेंस कार्यक्रम का समापन शनिवार को हुआ। नोडल अधिकारी डॉ. गिरीश ने बताया कि स्वास्थ्य सुविधाओं में गुणवत्ता के लिए डॉक्टर व नर्सिंग स्टाफ को मिलकर प्रयास करने की जरुरत है। अस्पताल में अधिकारियों व कार्मिकों के सामूहिक प्रयासों से ही लक्ष्यों तक पहुँचा जा सकता है।
अच्छे इलाज के आधार पर ही होगी सरकारी अस्पतालों की रैंकिंग
संबोधित करते पीएमओ डॉ. जाटोलिया व मंच अतिथि
प्रशिक्षण में ब्लॉक की समस्त सीएससी से चिकित्सा प्रभारी, नर्सिंग प्रभारी, शिशु वार्ड प्रभारी, लैबर रूम प्रभारी, लैब प्रभारी एवं आदर्श पीएचसी के चिकित्सा प्रभारी, शामिल हुए।

क्वालिटी एश्योरेंस कार्यक्रम के तहत अस्पतालों को पाॅइंटों के आधार पर काम कर सुनिश्चित करना होगा कि उनकी सेवाएं बेहतर है। इन्ही सेवाओं के आधार पर अस्पताल की रैंकिंग होगी। केंद्र सरकार की ओर से एक अस्पतालों को एक फार्मेट उपलब्ध कराया जाएगा, फार्मेट अनुसार कार्यों को निपटाना होगा।

निर्धारित मापदंडों के आधार पर बेहतर चिकित्सा इस मौके पर सीएचसी जीलो व गुहाला, आदर्श पीएचसी सिरोही व टोडा के प्रभारी व कार्मिक शामिल हुए। समापन कार्यक्रम में पीएमओ डॉ. एलएन जाटोलिया ने नोडल अधिकारी डॉ. गिरीश को प्रशिक्षण में बताई गई बातों पर कार्रवाई का भरोसा दिलाया। इस मौके पर डॉ. आरपी यादव, नर्सिंग स्टाफ के नोरंगलाल शर्मा आदि लोग उपस्थित थे।


- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।