नीमकाथाना : ब्लॉक कांग्रेस कार्यालय में रविवार को पूर्व विधायक रमेश खंडेलवाल की अध्यक्षता में बैठक हुई हुई। जिसमें खंडेलवाल ने जलदाय विभाग नीमकाथाना व पाटन अधिकारियों के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि 32 करोड़ शहरी जल परियोजना में व गावों में 119 करोड़ की जल परियोजना में अधिकारियो व ठेकेदारों द्वारा स्वीकृत नक्शो व नियमानुसार पाइप लाइन नहीं डालने पर राज्य सरकार के पोर्टल व लोकायुक्त से निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की जाएगी।

32 करोड़ शहरी जल परियोजना की जाँच करवाई जायेगी : रमेश खंडेलवाल

सभा में संगठन की गतिविधियों के बारे में विस्तार से विचार विमर्श किया गया। सभा को पालिका उपाध्यक्ष राजेंद्र महारानियां बार अध्यक्ष एडवोकेट बंटेश सैनी, सरपंच संघ अध्यक्ष बीरबल काजला सुभाष, महामंत्री रोहिताश नटवाडिया सहित कई वक्ताओं ने संबोधित किया। खंडेलवाल ने कहा कि मामले की जांच करने के लिए कमेटी का गठन किया गया है। जिसमें सदस्य योजना की पूरी जानकारी जुटाने का कार्य करेंगे अगर मामले की उचित कार्यवाही नहीं होती है तो मामले को हाईकोर्ट तक पहुंचाया जाएगा।

शहरी जल योजना कमेटी का अध्यक्ष एडवोकेट बंटेश सैनी व पंचायत समिती सदस्य दीपक नेहरा को नियुक्त किया गया है सभा में आगवाडी फाटक पर बन रहे अंडरपास पर भी चर्चा हुई जिसका कांग्रेस ने विरोध करने की घोषणा की।

यह भी पढ़ें - रेलवे अंडरब्रिज के खिलाफ आंदोलन छेड़ेगी कांग्रेस: रमेश खंडेलवाल

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।