विज्ञापन मात्र500/- से शुरू

News Update

नीतीश चुने गए भाजपा-जदयू गठबंधन के नेता, सीएम पद की शपथ आज शाम 5 बजे

नीतीश  का इस्तीफा देने के बाद दिल्ली में संसदीय दल की बैठक बुलाई गई।  जिसमें बिहार में भाजपा के शीर्ष नेता सुशील कुमार मोदी को इस बारे में जानकारी दी गई।  सुशील कुमार मोदी ने बैठक बाद बुधवार (26 जुलाई) को कहा कि भारतीय जनता पार्टी नीतीश कुमार को समर्थन देगी। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि उनकी सरकार नीतीश को बिना शर्त के समर्थन देगी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आज 27 जुलाई (गुरुवार) शाम 5 बजे नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया नितीश ने
source- google images


आगे की रणनीति बताते हुए सुशील मोदी ने कहा कि भाजपा सरकार नीतीश के साथ है, और नीतीश को ही विधायक दल के नेता चुनेबनाया जाएगा। वहीं दूसरी ओर सीएम नीतीश कुमार के आवास पर भाजपा और जदयू के विधायकों की बैठक हुई जिसमें सर्वसम्मति से नीतीश को गठबंधन का नेता चुन लिया गया।

नीतीश के इस्तीफे से बिहार की राजनीति में बवाल 

नीतीश के इस्तीफे से बिहार की राजनीति में बवाल मच गया है। जहां 243 सदस्यीय विधानसभा में किसी भी दल के पास बहुमत नहीं है। तेजस्वी यादव के पिता लालू प्रसाद की पार्टी राजद को 80 सीट है तो वहीँ कुमार की जदयू की 71 सीट  हैं। भाजपा के पास 53  सीट है। भाजपा और जद यू एक साथ आने पर गठबंधन को विधानसभा में बहुमत मिल जाएगा।

इस्तीफे के बाद नीतीश ने कहा, काम कर पाना मुश्किल हो गया था

बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद जद(यू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा कि जितना संभव हो सका उन्होंने गठबंधन धर्म का पालन कर सरकार को आगे बढ़ाने की कोशिश की। लेकिन बीते घटनाक्रम में जो नई बातें सामने आईं उसमें काम करना और भी मुश्किल हो गया था।

नीतीश ने कहा, "मैंने इन 20 महीनों में जितना हो सका, सरकार चलाने की कोशिश की. लेकिन इस बीच जो हालात बने, जिस तरह की चीजें उभरकर सामने आईं, उसमें काम करना, नेतृत्व करना संभव नहीं रह गया था."