एसएफआई व डीवाईएफआई ने विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा





नीमकाथाना। शहीद जेपी यादव पार्क में विभिन्न मांगों को लेकर सभा का आयोजन किया गया। उसके बाद रैली निकालकर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया।  सभा को नौजवान सभा के तहसील अध्यक्ष गोपाल सरपंच ने शुरुआत करते हुए कहा कि सीकर का युवा सेना की भर्ती के लिए दर दर की ठोकर खा रहा है यहां के युवाओं में सेना में जाकर सेवा करने का बहुत जज्बा है लेकिन देश की मोदी सरकार युवाओं के साथ धोखा कर रही है जब चुनाव थे तब मोदी सरकार ने कहा था कि हम हर साल 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे लेकिन रोजगार के नाम पर कुछ नही है सवा दो साल से अधिक समय हो गया सेना भर्ती को हुए इन दो वर्षो में सीकर जिले के साठ हजार नौजवान ओवरेज हो गए, एक हजार से अधिक नौजवान सीकर से हर साल भर्ती होते हैं  जिस कारण सेना भर्ती दो साल की आयु सीमा में छूट देते हुए पद बढ़ाकर जल्द करवाई जानी चाहिए। बेरोजगारी भत्ते में चार घंटे की इण्टरशीप लागू करने कारण बेरोजगार नौजवान प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी नही कर पाता है। इस कारण बेरोजगारी भत्ता लेने वालों की संख्या कम हुई है क्योंकि बेरोजगार नौजवान अस्थाई रोजगार की जगह स्थाई रोजगार लेना चाहता है। इसलिए बेरोजगारी भत्ता तुरंत फार्म भरते ही बिना शर्त लागू दिया जाना चाहिए। राजस्थान में बेरोजगारी दर 32 प्रतिशत सबसे ज्यादा है राज्य की कांग्रेस सरकार व केंद्र की भाजपा सरकार दोनों सरकारें नौजवानों सरकारी रोजगार देने की बजाय निजीकरण की ओर धकेलना चाह रही हैं। भर्तियों के फॉर्म फीस के नाम पर कोचिंग फीस के नाम पर बेरोजगार नौजवान ठगा जा रहा है। निजीकरण बंद करे और भर्तियों का वार्षिक कैलेंडर जारी करें। सभा को डीवाईएफआई के जिला उपाध्यक्ष मुकेश रोज ने संबोधित करते हुए कहा आज युवा जयपुर दिल्ली सहित अनेक जगह सेना भर्ती के लिए संघर्ष कर रहा है लेकिन सरकार के पास कोई योजना ही नही है।  सरकार सार्वजनिक सम्पत्तियो का निजीकरण पर रोक लगाए सभा को किसान सभा नेता रोशन लाल गुर्जर ने भी संबोधित किया उन्होंने कहा कि आज युवाओं को संघर्ष की आवश्यकता है। अगर युवा संघर्ष नहीं करेगा तो आने वाले समय में रोजगार खत्म हो जायेगा। अगर सेना भर्ती रैली सहित नौजवानों की मांगों को जल्द नहीं माना गया तो आने वाले समय में नीमकाथाना का नौजवान उग्र  बड़ा आंदोलन करेगा ।
Previous Post Next Post
  विज्ञापन के लिए संपर्क करें..…