नीमकाथाना। राजस्थान सरकार द्वारा  गांधी जयंती पर  प्रशासन गांवों के संग एवं शहरों के संग अभियान की शुरुआत की है। इन अभियानों मैं आमजन के समस्त राजस्व कार्य मौके पर ही किए जाने हैं, लेकिन ऐसा संभव नहीं हो पा रहा है।इस बारे में राजस्थान पटवार संघ अध्यक्ष जयसिंह मीणा ने बताया कि  पिछले कई वर्षों से राजस्व सेवा परिषद के साथ सरकार ने कई समझौते  किए हैं परंतु वे आज तक लागू नहीं किए हैं। इस कारण से राजस्व सेवा परिषद के सभी सदस्यों में सरकार के खिलाफ रोष व्याप्त है तथा सरकार की रीति नीतियों के खिलाफ आन्दोलन कर रहे है। राजस्थान की सभी उप शाखाओं की भांति उपखंड कार्यालय नीमकाथाना में भी उपशाखा नीमकाथाना के राजस्व सेवा परिषद के समस्त सदस्यों के द्वारा 2 अक्टूबर से आमरण अनशन एवं सत्याग्रह कार्यक्रम किया गया तथा सरकार के द्वारा चलाए जा रहे अभियानों सहित समस्त राजस्व कार्यो का बहिष्कार किया गया। जब तक सरकार राजस्व सेवा परिषद के 7 सूत्री मांग पत्र को मानकर उनके आदेश जारी नहीं करती है तब तक राजस्व सेवा परिषद में तहसीलदार, नायब तहसीलदार, गिरदावर तथा पटवारीगण कोई भी कार्य नहीं करेगा। उपखंड कार्यालय नीमकाथाना के सामने लगातार धरने पर रहेंगे तथा क्रमिक रूप से पांच व्यक्ति अनशन भी करेंगे। आज प्रशासन गांव के संग अभियान के दौरान शिविर में राजस्व कर्मचारीयों की टेबले खाली पाई गई। शिविर में राजस्व संबंधी कोई भी कार्य नहीं होने से लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ा।

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।