नीमकाथाना@ सरकार द्वारा सितम्बर माह पोषण माह के रूप में आयोजित किया जा रहा है। इस उपलक्ष में आज महिला एवं बाल विकास विभाग, नीमकाथाना की ओर से ब्लाॅक स्तरीय वेबिनार का आयोजन किया गया।
वेबिनार का उद्घाटन सीडीपीओ संजय चेतानी ने किया। चेतानी ने इस अवसर पर कहा कि वर्तमान में कोविड-19 प्रकोप जारी है। ऐसे समय में ब्लाॅक के दूर-दराज क्षेत्रों में उपस्थित आंगनबाड़ी कार्मिकों के मध्य पोषण के विभिन्न पहलुओं की जानकारी एवं ज्ञान के प्रसार के लिए इस प्रकार के आयोजन महत्वपूर्ण हैं।
इस अवसर पर मुख्य वक्ता पोषण विशेषज्ञ डाॅ0 किरण गुप्ता ने प्रतिभागियों को बताया कि यह आवश्यक नहीं है कि कुपोषण से बचाव के लिए केवल महँगे पौष्टिक खाद्यान्नों का ही इस्तेमाल किया जाए। उन्होनें कहा कि अधिकाँश कुपोषण हमारी खानपान की आदतों से जुड़ा हुआ है, जैसे उच्च प्रोटीन युक्त दालों का भोजन में कम प्रयोग, हरी पत्तेदार सब्जियों का कम प्रयोग आदि। जबकि यह सभी वस्तुऐं सहज-सुलभ हैं साथ ही उन्होनें पोषण के पंच सूत्रों शिशु के प्रथम एक हजार दिन, डायरिया प्रबंधन, एनिमिया प्रबंधन, स्वच्छता एवं साफ-सफाई एवं भोजन में विविधता पर भी चर्चा की।
वेबिनार को सम्बोधित करते हुए प्रचेता सुनीता चैधरी ने संभागियों को कुपोषण के विविध रूपों के चिन्हीकरण व उनके निराकरण एवं कुपोषण दूर करने हेतु वर्तमान में चलाए जा रहे पोषण वाटिका अभियान के सम्बन्ध में जानकारी दी।
 इस अवसर पर महिला पर्यवेक्षक सरोज इंदुलिया, विमला वर्मा, सोनिया यादव, मंजू लाखीवाल, बबीता कुमावत, शालापूर्व शिक्षिका निधि पुरोहित, सरिता, नीलम, मीना मीणा, सुशील सोलंकी, भाग्यवती, ज्योति आदि भी उपस्थित थे।

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।