नीमकाथाना - जाति आधारित आरक्षण के खिलाफ मंगलवार को नीमकाथाना में भारत बंद का व्यापक असर रहा। कई निजी शिक्षण संस्थाओं व कॉलेजों ने भी बंद रखा। बंद को देखते हुए पुलिस व प्रशासन ने भारी इंतजाम किए थे। सुरक्षा व अफवाह नहीं फैले, इसके लिए इंटरनेट सेवा पर रात 10 बजे तक पाबंदी लगाई गई।


भीम सेना के दो अप्रैल को हुए बंद में हिंसा, उपद्रव व आगजनी की घटना को देखते हुए कलेक्टर के आदेश पर एसडीएम जेपी गौड़ ने पूरे शहर में धारा 144 लागू कर दी। कपिल मंडी, खेतड़ी मोड़ व कॉलेज के सामने पुलिस जाब्ता मौजूद रहा। बीएसएफ, रेपिड एक्शन फोर्स व पुलिस जवानों ने फ्लैग मार्च निकाला।

 दिनभर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की गाडिय़ां गश्त करती रही। बंद के दौरान फोर्स का पूरा फोकस कपिल मंडी बाजार व खेतड़ी मोड़ रहा। हालांकि कोई संगठन बाजार बंद के लिए सामने नहीं आया।

व्यापारियों ने खुद दुकानें बंद रखी। न कोई रैली निकाली न ज्ञापन दिया गया। तोड़फोड़, हिंसा, उपद्रव व आरक्षण के खिलाफ बाजार बंद रखकर लोगों ने विरोध दर्ज कराया।


गांवों व गलियों में भी दुकानें बंद रही : 

नीमकाथाना में भारत बंद का खासा असर देखा गया। गांवों व गलियों में भी दुकानें बंद रही। कपिल मंडी, रामलीला मैदान, खेतड़ी मोड़, छावनी बाजार पूरी तरह बंद रहे। 

मावंडा व डाबला में भी बाजार बंद रहे। बंद के दौरान चाय-पानी की दुकानें भी नहीं खुली। निजी बसें व टैक्सियां भी बंद रही।

वीडियो: उच्च अधिकारियों के साथ BSF आर्मी व पुलिस के जवानो ने शहर में शांति कायम करने के लिए फ्लेग मार्च निकाला

Video: Deepak Vashisth
सड़कें व बाजार रहे सूने : 

नीमकाथाना में बंद के दौरान बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा। सड़कें सूनी रही। सब्जी मंडी भी नहीं खुली। बंद को देखते हुए गांवों से भी लोग नहीं आए। स्कूल, कॉलेज व कोचिंग संस्थाएं भी बंद रही। 

सड़कों पर वाहनों की आवाजाही भी कम रही। रोडवेज बसों को छोड़कर जयपुर- सीकर, कोटपूतली खेतड़ी को जाने वाली निजी बसें नहीं चली।

उपद्रवियों को गिरफ्तार करने की मांग 

नीमकाथाना- भारत बंद के तहत मंगलवार को नीमकाथाना बंद पूरी तरह सफल रहा। इसके लिए सर्वसमाज व भगतसिंह विचार मंच पदाधिकारियों नेप्रशासनिक अधिकारियों, पुलिस व शहरी व्यापारियों का आभार जताया।

संगठनों के पदाधिकारियों ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर लोगों से आपसी सौहार्द बनाए रखने का आह्वान भी किया। कहा, यहां के लोग आपसी सौहार्द रखते हैं । उसे बिगाड़ने वालों के सख्त खिलाफ हैं।

उन्होंने दो अप्रैल के उपद्रवियों को गिरफ्तार करने की मांगी भी की है। बंद के दौरान प्रशासन मुस्तैद रहा। इससे अप्रिय घटना नहीं हुई। संगठनों ने सभी का आभार जताया हैं।

- सचिन पत्रकार नीमकाथाना   

➧  Contact On Facebook


विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें- +91-9079171692

विज्ञापनविज्ञापन के लिए संपर्क करें- 9079171692,7568170500

Join Whatsapp Group

नीमकाथाना न्यूज़

The Group Of Digital Neemkathana




- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।