Digital Neemkathana Android App Comming Soon...

News Update

नीमकाथाना में खेतड़ी मोड़ सहित, कई सड़कों का किया गया नामकरण

नीमकाथाना न्यूज़- नपा साधारण सभा की बैठक पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान की अध्यक्षता में हुई। सदन में सरकार द्वारा मनोनीत चार सहवृत सदस्यों का पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान व ईओ सलीम खान ने स्वागत किया। स्वायत शासन विभाग के आदेश पर पालिका बोर्ड ने शहर के प्रमुख रास्तों के नामकरण एवं मूर्ति के लिए लंबित चल रहे प्रकरणों का निस्तारण करने पर चर्चा की।
सदस्यों ने चर्चा के दौरान आठ अगस्त 2016 को पारित निर्णय के आधार पर प्रमुख रास्तों व सड़कों का नामकरण करने का निर्णय किया। पार्षद जेपी लोढ़ा ने शहीद सुनील यादव की प्रतिमा के लिए नेहरू पार्क में जगह आवंटित करने का प्रस्ताव रखा। विपक्ष के नेता महेंद्र गोयल ने कहा पूर्व में बोर्ड ने पैराफेरी एरिए में बाईपास पर शहीद पार्क बनाने के फैसले की कार्रवाई का ब्यौरा मांगा।

पालिकाध्यक्ष त्रिलोक दीवान ने सदन को बताया कि बार-बार एसडीएम व तहसीलदार को पत्र दिए गए हैं। पैराफेरी एरिए की जमीन पालिका के नाम दर्ज नहीं हुई है। इस पर अतिक्रमण भी बढ़ रहे हैं। अब इस पर प्रशासन के सहयोग से कार्रवाई करानी होगी। इस पर कांग्रेस सदस्यों ने बाईपास पर प्रस्तावित शहीद पार्क में प्रतिमा के लिए जगह देने के पूर्व के निर्णय को बहाल रखने की सहमति दी।

शहीद प्रतिमा के लिए जगह देने के मसले पर सदन में मतविभाजन की स्थिति बन गई। इस पर पालिकाध्यक्ष दीवान ने मतविभाजन के लिए सदस्यों से हाथ खड़े कराए। नेहरू पार्क में शहीद प्रतिमा के लिए जगह देने के पक्ष में आठ वहीं पूर्व के प्रस्ताव को बहाल रखने के लिए 11 सदस्यों ने समर्थन जताया।

बहुमत के आधार पर शहीद सुनील यादव की प्रतिमा के लिए बाईपास पर प्रस्तावित शहीद पार्क में जगह देने का निर्णय हुआ। चर्चा में उपाध्यक्ष राजेंद्र महराणियां, गिरधारी मीणा, होशियार सिंह लांबा, जयचंद डांगी, छगनलाल गुर्जर, हेमेश भटनागर, रतनलाल सैन आदि पार्षद शामिल हुए। बैठक के दौरान सदस्यों ने अन्य मामलों पर भी चर्चा की।

इन मार्गों के नाम को दी मंजूरी

पालिका बोर्ड ने पूर्व में हुए निर्णय के आधार पर खेतड़ी मोड़ का नामकरण डॉ. भीमराव अंबेडकर करने, खेतड़ी रोड को शहीद भगतसिंह के नाम करने, भूदोली रोड को परशुराम मार्ग करने, खेतड़ी मोड़ से गांवड़ी मोड़ तक महात्मा ज्योतिबा फुले मार्ग, खेतड़ी मोड़ से कपिल मूर्ति सर्किल तक डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम मार्ग, कपिल मूर्ति सर्किल से रेलवे फाटक तक महाराणा प्रताप मार्ग के नाम रखने का निर्णय किया। छावनी में पूर्वविधायक मोहनलाल मोदी के आवास से पूर्व सांसद श्रीकिशन मोदी के निवास तक रोड को स्वतंत्रता सेनानी ज्ञानचंद मोदी के नाम किया गया।

नीमकाथाना शहर में चौराहों के नामकरण को लेकर पूर्व में भी लोग दो खेमों में बंट चुके हैं। इसे लेकर धरना प्रदर्शन भी हो चुके हैं। लंबे समय तक लोगों ने इसे मुद्दा बनाया और ज्ञापन देने सहित अन्य प्रकार से मामले काे उठाते रहे।

No comments