विज्ञापन के लिए सम्पर्क करें- +91-9079171692, +91-9680820300

News Update

पाकिस्तान ने दुनिया को क्या दिया सिर्फ आतंकवाद, UNGA में सुषमा के पाक पर 10 प्रहार

संयुक्त राष्ट्र: भारत की सफल विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में दोगले चरित्र वाले पाकिस्तान को आड़े हाथ लिया। उन्होंने पूरी दुनिया के सामने संयुक्त राष्ट्र महासभा मंच से न सिर्फ पाक को आतंकवादियों के पनाह देने वाला बताया, बल्कि विकास और अन्य मुद्दों पर भी पड़ोसी मुल्क की असलियत सबके सामने रखी।

पाकिस्तान ने दुनिया को क्या दिया सिर्फ आतंकवाद, UNGA में सुषमा के पाक पर 10 प्रहार
source-google
'नमस्कार' शब्द से अपने संबोधन की शुरुवात करते हुए सुषमा स्वराज ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कई महत्वकांशी योजनाओं का जिक्र किया जिसमें उज्ज्वला और जनधन योजना सबसे प्रमुख थीं। इसके बाद उन्होंने पीएम मोदी के नोटबंदी कार्यक्रम की भी तारीफ करते हुए कहा कि इस ऐतिहासिक से देश में कालेधन और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने में मदद मिली।

संबोधन के 9 मिनट के बाद ज्यादा समय जायर ना करते हुए सुषमा ने आतंकवाद पर बोलना प्रारंभ किया और पाकिस्तान पर एक के बाद एक हमले किए।

  • स्वराज ने कहा कि भारत ने आईआईटी, आईआईएम और एम्स जैसे संस्थान बनाए जबकि पाकिस्तान ने एलईटी, जेईएम, हिज्बुल मुजाहिद्दीन और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी गुट तैयार किए।
  • सुषमा स्वराज ने कहा: आपका (पाकिस्तान का) जिहादी संगठन केवल भारत के लोगों को नहीं मार रहा वो हमारे पड़ोसी बांग्लादेश और अफगानिस्तान के लोगों को भी मार रहा है।
  • सुषमा स्वराज ने कहा, पाक सोचे कि हम साथ आजाद हुए थे और आज वो कहां है और हम कहां हैं।
  • सुषमा ने पाकिस्तानी नेताओं से कहा कि वे इस पर आत्ममंथन करें कि भारत क्यों वैश्विक आईटी महाशक्ति के तौर पर जाना जाता है और पाकिस्तान की पहचान ‘आतंकवाद के निर्यात के कारखाने’ की है।
  • सुषमा स्वराज ने कहा: UNGA के इतिहास में पहली बार हुआ है कि किसी देश ने शाम को 'जवाब देने का अधिकार' (Right To Reply) मांगा हो और एकसाथ उसे तीन देशों को जवाब देना पड़ा हो. ये अकेला तथ्य पाकिस्तान की करतूत को दर्शाता है।
Video: संयुक्त राष्ट्र महासभा में सुषमा स्वराज का सम्बोधन
  • सुषमा स्वराज ने कहा, 'विश्व आतंकवाद और साइबर सुरक्षा पर खतरे से जूझ रहा है. विश्व गरीबी, भूखमरी और पर्यावरण संकट की समस्या से जूझ रहा है. हम गरीबी से लड़ रहे हैं लेकिन हमारा पड़ोसी मुल्क आतंकवाद से लड़ रहा है।' 
  • स्वराज ने पाक प्रधानमंत्री खाकान अब्बासी को निशाने पर लेते हुए कहा, जो मुल्क हैवानियत की हदें पार करके बेगुनाहों को मौत के घाट उतरवाया है, वो यहां हमें इंसानियत का सबक सिखा रहा था। 
  • सुषमा स्वराज ने कहा कि पाकिस्तान ने जो पैसा आतंकवाद पर खर्च किया, अगर अपने विकास पर खर्च करता तो आज दुनिया अधिक सुरक्षित और बेहतर होती।
  • सुषमा ने कहा: हमने स्कॉलर, डॉक्टर्स, इंजीनियर पैदा किए और आपने क्या किया? आपने आतंकवादी पैदा किए. डॉक्टर्स लोगों की जान बचाते हैं और आतंकी उन्हें मौत की ओर धकेलते हैं।
  • सुषमा स्वराज ने कहा, पाक सोचे कि हम साथ आजाद हुए थे और आज वो कहां है और हम कहां हैं।
सुषमा स्वराज ने कहा, 'पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा था कि जिन्ना ने पाकिस्तान को शांति और दोस्ती की नीति विरासत में दी थी। यह तो इतिहास जानता है कि जिन्ना ने कैसी विरासत दी थी, लेकिन मैं याद दिलाना चाहती हूं कि प्रधानमंत्री मोदी ने शांति और दोस्ती की नीयत जरूर दिखाई थी। कहानी बदरंग किसने की, अब्बासी साहब इसका जवाब दें।'