नीमकाथाना@गावड़ी के पहाड़ों से निकलने वाली कासावती नदी में आज पहली बारिश में ही अच्छी आवक होने से नदी में पानी आया। भराला के पास इस नदी का पानी रोड पर भी आ गया जिससे दुपहिया वाहन चालकों को भी अपने वाहनों को कुछ देर रोकना पड़ा। जीर की चौकी के पास नदी के बहाव क्षेत्र में क्रेशर प्लांट लग जाने के कारण नदी का पेटा कम हो जाने से पानी रोड पर आ गया।
भराला निवासी महेश सैनी का कहना है कि अभी मानसून आया भी नंही है यह  प्री मानसून की बरसात थी जो पहली ही बरसात में नदी का पानी रोड पर आ गया। कासावती नदी का पानी जिले के सबसे बड़े रायपुर बांध में जाकर गिरता है जहां पर बांध की चद्दर चलने के बाद इसका पानी हरियाणा के नांगल चौधरी होते हुए पटौदी के खेतों में फैल जाता है। वंही रायपुर बांध के भर जाने से इसके आसपास के इलाके जिसमें काचरेडा, रायपुर, खारिया, मिंडाला छाजा की नांगल, धांधेला, रामपुरा बेगा की नांगल, मोठूका के किसानों को काफी फायदा मिलता है। प्री मानसून की पहली बारिश से कासावती नदी में बहते पानी को देखकर किसानों के चेहरों पर खुशियां देखने को मिली है।

- ऐसी ही अपने क्षेत्र की ताजा ख़बरें सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें Digital Neemkathana App गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध।