Advertise With Us...Think Smart, Do Digital... #CHECK PRICE HERE

Headlines

अच्छी खबर: नीमकाथाना कृषि उपज मंडी में 26 दुकानों का निर्माण शीघ्र शुरू किया जाएगा

117.50 लाख रुपए में बनी फल-सब्जी मंडी में साढ़े पांच साल बाद दुकानों के आबंटन की प्रक्रिया शुरू

नीमकाथाना: सुविधा के लिए कृषि उपज मंडी में 5.84 बीघा जमीन पर 117.50 लाख में बनी फल-सब्जी मंडी में साढ़े पांच साल बाद दुकानों के आबंटन की प्रक्रिया शुरू होगी। भूखंड आवंटन की प्रक्रिया बीते ढाई साल से अटकी हुई थी।


मीडिया ने किसानों की पीड़ा को प्रमुखता से उठाया। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के जनसंवाद में किसानों ने दुकानें आबंटित नहीं होने का मसला रखा। अब मंडी यार्ड में भूखंड आवंटन को राज्य सरकार व कृषि विपणन निदेशालय से भी अनुमोदन मिल गया है। दुकानों के लिए जमीन आबंटन की प्रक्रिया में तेजी आई है। भूखंड आवंटन के एक साल में फल-सब्जी मंडी चालू कराने की योजना है।

मंडी विकास के लिए होंगे कई काम

कृषि उपज मंडी समिति सचिव श्रीराम सैनी ने बताया कि 14वीं विधानसभा में बजट प्रावधानों के तहत मंडी विकास के कई काम होंगे।

नीमकाथाना मंडी क्षेत्र में इसके लिए प्लान तैयार कराया गया है। गुहाला से झांकड़ा तक दो किमी सड़क निर्माण, मंडी यार्ड में सड़कों की मरम्मत व डामरीकरण (फल-सब्जी मंडी को छोड़कर), नीलामी चबूतरे की मरम्मत व टीनशैड कवरिंग कार्य, नीलामी चबूतरे के चारों तरफ फुटकर दुकानों के सामने इंटरलॉकिंग कार्य, अ व ब ब्लॉक के उत्तर दिशा में सड़क किनारे मिट्टी कटाव को रोकने के लिए समतलीकरण कार्य, मंडी यार्ड में मुख्य गेट पर फलेक्सी बोर्ड लगाने का कार्य कराया जाएगा।


दो ब्लॉक में होगा भूखंड आबंटन

मंडी यार्ड में फल-सब्जी उत्पादक काश्तकारों व व्यापारियों को दो ब्लॉक में 26 दुकानों के भूखंड का आबंटन किया जाएगा। आबंटन राशि जमा कराने वालों को छह माह में दुकान का निर्माण करना होगा। कृषि मंडी यार्ड में दुकानों के लिए ‘ए’ तथा ‘बी’ ब्लॉक बनाए गए हैं। आवेदकों को 99 साल की लीज पर दुकानों के भूखंड का आबंटन होगा।

आबंटन समिति की बैठक कल : 

नई फल-सब्जी मंडी में रिक्त भूखंडों के प्रथम चरण के आबंटन के लिए मंडी स्तरीय आबंटन समिति की बैठक 16 अप्रैल को सुबह 11 बजे कृषि उपज मंडी के कार्यालय भवन में होगी।

आबंटन समिति रिक्त भूखंडों पर नंबरिंग कार्य, आरक्षण का निर्धारण व भूखंडों के आबंटन पर विचार करेगी। समिति में प्रशासक (उपखंड अधिकारी) नीमकाथाना, तहसीलदार (कलेक्टर प्रतिनिधि), उपनिदेशक कृषि विपणन विभाग सीकर, अध्यक्ष व्यापार मंडल फल-सब्जी/अनाज मंडी नीमकाथाना शामिल होंगे।

➧ यह था मामला - नीमकाथाना में 117.50 लाख की लागत से बनी फल- सब्जी मंडी, 5 साल बाद भी भूखंड आवंटन नहीं

No comments