Breaking News

शेखावाटी में 450 जगह किसानों का चक्का जाम छह जिले प्रभावित, 16 हजार यात्री रास्तों में फसें

सीकर: कर्ज माफी सहित 11 सूत्री मांगों को लेकर सीकर कृषि उपज मंडी में महापड़ाव पर बैठे किसानों ने सोमवार को चक्का जाम कर पूरे शेखावाटी को सील कर दिया। इसका असर सीकर, चूरू, झुंझुनूं, जयपुर, बीकानेर व नागौर सहित हरियाणा के सीमावर्ती जिलों पर असर पड़ा।

शेखावाटी में 450 जगह किसानों का चक्का जाम छह जिले प्रभावित, 16 हजार यात्री रास्तों में फसें
source- google image

शेखावाटी में 450 स्थानों पर चक्का जाम से करीब 3500 वाहन और 16 हजार लोग रास्तों में अटक गए। इससे पहले मंडी से कलेक्ट्रेट के रवाना हुए किसानों को पुलिस ने जयपुर रोड पर रोका तो वहीं महापड़ाव शुरू कर दिया।

नीमकाथाना : कुचामन- कोटपूतली स्टेट हाईवे रोका किसान महापड़ाव के समर्थन में सिरोही बाईपास पर माकपा व किसान सभा ने जाम लगाकर प्रदर्शन किया। हाईवे पर ही टैंट लगा लिया और धरने पर बैठ गए। इस दौरान बाइक सवार व किसान आपस में उलझे, लेकिन पुलिस की माकूल व्यवस्था से माहौल शांत रहा। कई स्कूली वाहन जाम में फंस गए। दोपहर बाद सीकर से वार्ताका बुलावा आने की सूचना पर जाम हटा लिया गया। टोडा के हाथीदेह में किसान शाम तक सड़क जाम कर बैठे रहे।

असामाजिक तत्व भी आये सामने

कुछ असामाजिक तत्वों ने अग्रसेन फाटक के पास चूरू से रतनगढ़ जा रही मालगाड़ी पर पथराव किया। घस्सु के पास तारानगर विधायक जयनारायण पूनिया की गाड़ी को रोककर टायरों की हवा निकाल दी। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने विधायक को सुरक्षित बाहर निकाला। चक्का जाम से एंबुलेंस, बारात और सेना की गाडिय़ां ही निकाली गई।

पूरा प्रदेश ठहर सा गया 

सीकर- चूरू व झुंझुनूं से निकलने वाले सभी नेशनल व स्टेट हाईवे पर चक्का जाम रहा। इधर, झुंझुनूं में किसानों ने रैली निकाली, नवलगढ़ व मुकंदगढ़ कस्बा बंद रहा। किसानों ने मंगलवार को राजस्थान चक्का जाम की घोषणा की है। अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमराराम की अगुआई में किसान 12.10 बजे सीकर कृषि उपज मंडी से रैली के तौर कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुए।

जयपुर रोड पर रविवार रात से ही मोर्चा संभाले पुलिस जवानों ने किसानों को यहां रोक दिया। कलेक्टर ने मंत्री समूह के गठन की जानकारी देते हुए किसानों को जयपुर में शाम पांच बजे वार्ता का न्यौता दिया। लेकिन किसान नेताओं ने कहा शाम तक अन्य जिलों से हमारे नेता जयपुर पहुंचने में सक्षम नहीं है।

मंगलवार को जयपुर में शाम पांच बजे किसान नेताओं और मंत्री समूह के बीच वार्ता होगी। जाम के कारण ज्यादातर स्कूलों में छुट्टी कर दी गई। हाईवे पर वाहनों की कतार लगी रही। जयपुर से बीकानेर से जाने वाला नेशनल हाईवे, सीकर से लुहारु जाने वाला स्टेट हाइवे, सीकर से नागौर हाइवे पूरी तरह ठप रहा। रींगस-सीकर, लक्ष्मणगढ़-मुकंदगढ़, लक्ष्मणगढ़ सालासर, लक्ष्मणगढ़-नवलगढ़-झुंझुनूं रोड, सीकर-नागौर सहित अन्य मार्गों पर चक्का जमा रहा।

No comments