नीमकाथाना: आंगनबाड़ी कार्मिकों ने अपनी आठ को लेकर किया धरना प्रदर्शन

नीमकाथाना: आंगनबाड़ी कार्मिकों ने अपनी आठ सूत्रीय मांगों को लेकर मंगलवार को पंचायत समिति कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया। नीमकाथाना शहर, डाबला, मांवडा, पाटन, प्रीतमपुरी, गणेश्वर व भूदोली सेक्टर की कार्मिक धरने में शामिल हुई।

नीमकाथाना में आंगनबाड़ी कार्मिकों ने अपनी आठ मांगों को लेकर दिया धरना
फोटो - नीमकाथाना भास्कर

इससे पहले नेहरू पार्क से आंगनबाड़ी महिलाओं ने रैली निकाली। हाथों में तख्तियां लेकर नारे लगाती हुई आंगनबाड़ी महिला कार्मिक धरना स्थल पर पहुंची। अखिल राजस्थान महिला एवं बाल विकास संयुक्त कर्मचारी संघ की ब्लॉक पदाधिकारियों ने कहा कि मांगे पूरी नहीं होने तक आंदोलन जारी रहेगा। महिला कार्मिकों ने सैनिक कल्याण सलाहकार समिति अध्यक्ष एवं विधायक प्रेमसिंह बाजौर को ज्ञापन दिया।

बाजौर ने मुख्यमंत्री तक उनकी मांग पहुंचाने का भरोसा दिलाया। प्रदर्शन में ब्लॉक के सभी सेक्टरों से आंगनबाड़ी कार्मिक शामिल हुई। एसडीएम जेपी गौड़ को भी महिलाओं ने मांग पत्र सौंपा।

ज्ञापन में ये आठ प्रमुख मांगें :

  1.  एक करोड़ के बजट से कल्याण कोष बनाया जाए। 
  2. महिला पर्यवेक्षकों के रूप में 50 प्रतिशत पद कार्यकर्ताओं से भरे जाए। 
  3. आंगनबाड़ी कार्मिकों का सेवा अभिलेख तैयार कराने की मांग को स्वीकार करें।
  4. आंगनबाड़ी कार्मिकों को नियमित राज्य कर्मचारियों का दर्जादिया जाय।
  5. कर्मचारियों  को नियमितकर प्रतिमाह मानदेय 15 हजार किये जाए। 
  6. आशा सहयोगिनियों को एएनएम भर्ती में 50 प्रतिशत कोटा दिया जाए।
  7.  ग्राम साथिनों को प्रचेता पद पर नियुक्त करने की तरफ ध्यान देना चाहिए। 
  8. आशा सहयोगिनियों को एएनएम के समकक्ष मानते हुए चिकित्साकर्मी बनाया जाए

No comments

Theme images by Flashworks. Powered by Blogger.