Breaking News

भ्रूण लिंग जांच करने वाले नीमकाथाना के दलाल को जयपुर में दबोचा

Neem Ka Thana News- पी.सी.पी.एन.डी.टी टीम ने सोमवार को दो बड़ी कार्रवाई करते हुए बड़ी सफलता हासिल की है। पहली कार्रवाई में टीम ने रींगस कस्बे के भैंरूजी मोड़ पर शेखावाटी अंचल में भ्रूण लिंग करने वाले गिरोह के सरगना को पकड़ा । सरगना की गाड़ी किसानों द्वारा लगाए गए जाम में फंसी हुई थी।

भ्रूण लिंग जांच करने वाले नीमकाथाना के दलाल को जयपुर में दबोचा
फाइल फोटो- नीमकाथाना भास्कर

दूसरी कार्रवाई में टीम ने जयपुर में सीकर रोड स्थित होटल में नीमकाथाना के युवक और उसके दलाल को दबोचा। दोनों लेपटॉप पर गर्भवती महिला को फर्जी दिखाते थे और उसके बाद भ्रूण का लिंग बताते थे। इसके लिए वे मोटी रकम 20 हजार रुपए तक वसूलते थे।

PCPNDT की टीम की गिरफ्तार सरगना और दोनों युवकों से पूछताछ चल रही है।

सीआई उमेश निठारवाल के मुताबिक सीकर रोड़ स्थित निजी होटल में किराए का कैमरा लेकर गर्भवती महिलाओं से ठगी करने वाले नीमकाथाना के पुराना बास निवास प्रदीप शर्मा और दयाल की नांगल निवासी दिनेश शर्मा को गिरफ्तार किया। दोनों आरोपी गर्भवती महिला और उसके परिजन को लेपटॉप पर डाउनलोड फिल्म दिखाते थे। इसके लिए फर्जी प्रॉब भी काम में लेते थे। गर्भवती को इसके बाद भ्रूण का लिंग बता देते थे। इसके बदले अच्छी खासी मोटी रकम 20 हजार तक रुपए वसूलते थे। अर्बोशन कराने के लिए अलग 10 हजार रुपए ऐंठते थे।

PCPNDT टीम के सीआई उमेश निठारवाल का कहना है, कि सोमवार को मुखबिर से सूचना मिली कि भैंरूजी मोड़ पर शेखावाटी अंचल में भ्रूण लिंग जांच करने वाले गिरोह के सरगना की गाड़ी जाम में फंसी हुई है। इस पर टीम ने वहां दबिश देकर आरोपी रविसिंह को दबोच लिया।

 उन्होने बताया कि रविसिंह 2009 से लिंग जांच के काम से जुड़ा हुआ है। शेखावाटी में उसका गिरोह अब तक 23 हजार से ज्यादा भ्रूण लिंग जांच कर चुका है। इतना ही नहीं सरगना ने 3 दर्जन से फर्जी डॉक्टर भी तैयार कर रखे है, जो अशिक्षित और पहाड़ी इलाके में पहुंचकर भ्रूण लिंग करते जांच है।  टीम दोनों से पूछताछ करने में जुटी है।

नीमकाथाना निजी अस्पताल में काम करता है प्रदीप

भ्रूण लिंग जांच के नाम पर गर्भवती महिलाओं से ठगी करने का आरोपी प्रदीप नीमकाथाना कस्बे के निजी हॉस्पिटल में कार्यरत्त है। दिनेश उसका दलाल है। वे गर्भवती महिलाओं को अपने जाल में फंसाकर जयपुर स्थित होटल लेकर जाते थे। इसके बाद डाउनलोड की हुई फिल्म दिखाकर भ्रूण का लिंग बता देते थे। प्रदीप और दिनेश नीमकाथाना इलाके में ढाई साल से सक्रिय है। सोमवार को कार्रवाई के दौरान दोनों के पास मावंडा कला की गर्भवती महिला भी लिंग जांच के लिए आई हुई थी। टीम ने महिला के देवर को भी हिरासत में लिया है।

No comments